Gharelu Nuskhe DetailBack

HospitalSKundali

होम्योपैथी में प्रिवेंटिव डोज की सलाह

होम्योपैथी में प्रिवेंटिव डोज की सलाह
 
जिस समय मलेरिया के मच्छरों का प्रकोप ज्यादा हो या व्यक्ति को सर्दी लगने के साथ कंपकंपी व हल्का बुखार जैसा महसूस हो तो विशेषज्ञ मलेरिया ऑफिसिनेलिस और आर्स एल्ब दवा प्रिवेंटिव रूप से लेने की सलाह देते हैं। दोनों में किसी एक दवा को हफ्ते में एक बार 200 पोटेंसी में ले सकते हैं।
 
ऐसे करें रोकथाम :-
 
मच्छरदानी का प्रयोग : आसपास गंदा पानी जमा न होने देना मलेरिया से बचाता है। इसके अलावा  प्राकृतिक तरीकों से मच्छरों से बचाव के साथ इनके  प्रभाव को सावधानी बरतकर कम कर सकते हैं।
 
धुआं करें : कर्पूर, जटामासीए नीम, तुलसी व जामुन की पत्तियों को थोड़ी.थोड़ी मात्रा में मिलाकर जला लें व घर में सूर्यादयध्सूर्यास्त के समय धुआं करें। मच्छर दूर भागेंगे।
 
मालिश : नीम व नारियल का तेल और कर्पूर को मिलाकर त्वचा के खुले हिस्सों पर मालिश करें। 
 
चटनी के रूप में : आधा चम्मच कलौंजी के पाउडर को एक चम्मच शहद के साथ दिन में 3-4 बार चाटें।
 
फिटकरी : अत्यधिक ठंड व बुखार लगे तो फूली हुई फिटकरी की 1/4 चम्मच की मात्रा को एक चम्मच चीनी के साथ खा लें। इसके लिए फिटकरी को पीसकर तवे पर सेकें। इससे लिवर व आंतों की कार्यप्रणाली में सुधार होने के साथ कोई संक्रमण है भी तो उसका असर कम होगा। आंतों में घाव या अल्सर वाले इसे न खाएं।