Gharelu Nuskhe DetailBack

HospitalSKundali

नमक से भयंकर बीमारी कैंसर की रोकथाम संभव

कैंसर जैसी घातक बीमारी का इलाज अब नमक से किया जा सकेगा। हैरानी होगी आपको यह जानकर कि केवल नमक से इस भयंकर बीमारी की रोकथाम संभव हो सकेगी।
 
 
 
हाल ही हुई एक रिसर्च में पता चला है कि कैंसरग्रस्त कोशिकाओं में नमक प्रवाहित करके उन्हें खत्म किया जा सकता है। शोधकर्ताओं का मानना है कि इस नई खोज से कैंसर के इलाज के लिए नई दवा बनाई जा सकती है।
शोधकर्ताओं ने एक ऐसा अणु निर्मित करने में सफलता पाई जो कैंसरग्रस्त कोशिकाओं में सोडियम और क्लोराइड के आयन प्रवाहित करता है, जिससे कैंसरग्रस्त कोशिकाएं खुद ब खुद समाप्त हो जाती हैं।
 
इंग्लैंड के साउथम्पटन विश्वविद्यालय के प्रोफेसर फिलिप गेल का कहना है कि नमक की सहायता से किसी कोशिका को समाप्त होने की ओर धकेल सकते हैं।
 
कैंसरग्रस्त कोशिकाओं को मारने में प्रभावी है नमक का इंजेक्शन।पर ध्यान रखिए आपको नमक खाने में कम ही लेना है। नमक के अधिक सेवन से उच्च रक्तचापए हृदय रोग और स्ट्रोक का खतरा बढ़ सकता है। यह कैंसर भी पैदा कर सकता है। शोध में पाया गया है कि अधिक नमक का सेवन पेट के कैंसर के खतरे को बढ़ा सकता है। वल्र्ड कैंसर रिसर्च फंड के अनुसार अधिक नमकीन खाद्य पदार्थों से परहेज कर कैंसर के खतरे को कम किया जा सकता है। विशेषकर नमक के सेवन में कटौती कर सात में से एक पेट के कैंसर की रोकथाम की जा सकती है।
 
हर व्यक्ति को रोजाना 6 ग्राम नमक लेने की सलाह दी गयी है लेकिन अधिकतर लोग रोजाना 8.6 ग्राम नमक का सेवन करते हैं। अगर हर व्यक्ति रोजाना 6 ग्राम से अधिक नमक का सेवन न करे तो पेट के कैंसर के14 प्रतिशत मामलों को रोका जा सकता है।