Gharelu Nuskhe DetailBack

HospitalSKundali

न आपको एक्सरसाइज करनी पड़ेगी और न जिम में वर्कआउट।

 
ये 8 चीजें ऐसी हैंए जिन्हें अपनी डाइट में शामिल करने से मक्खन की तरह पिघल जाएगी चर्बी। यकीन नहीं होता, तो आजमाकर देखिए ।
 
 
 
1.  करेले के रस में नींबू का रस मिलाकर पीने से मोटापा कम होता है। सब्जियों और फलों में कैलोरी कम होती है इसलिए ये अधिक खाएं। चाय में पुदीना डालकर पीने से मोटापा कम होता है। टमाटर और पुदीना की पत्ती युक्त सलाद खाएं।  पुदीने की ताजी हरी पत्तियों की चटनी बनाकर चपाती के साथ खाएं। पुदीने वाली चाय पीने से भी वजन नियंत्रण में रहता है।
 
 
 
2. सुबह उठते ही यदि आप चाय पीने के आदी हैं तो दूध की चाय के बजाय ग्रीन टी पिएं। इसमें एंटी ऑक्सिडेंट होते हैंए जो दिल के लिए फायदेमंद हैं। यह वजन कम करने में भी मदद करती है। दिन में तीन.चार बार ग्रीन टी ले सकते हैं।  रोजाना कच्चा टमाटरए नमक और प्याज साथ खाने से मोटापा कम होने लगता है। तुलसी के पत्तों का रसए शहद और एक कप पानी तीनों को मिलाकर पीने मोटापा घटता है।
 
 
3. एक गिलास गर्म पानी में एक नींबू और शहद डालकर खाली पेट दो माह तक पीने से मोटापा कम होता है। सुबह उठकर नीबू.पानी लेना चाहिए। इससे बॉडी का डिटॉक्सिफिकेशन होता है। चने की भीगी हुई दाल और शहद मिलाकर रोज खाने से मोटापा कम होता है।
 
 
4. दही मोटापा कम करने में लाभप्रद होता है। गेहूं के आटे की चपाती के बजाय जौ.चने के आटे की चपाती फिट रहने और सेहत के लिए वरदान है। छाछ में काला नमक व अजवाइन मिलाकर पीने से मोटापा कम होने लगता है। सुबह एक टमाटर खाने से कॉलेस्ट्रोल का लेवल ठीक रहता है और शरीर में मौजूद वसा भी कम होती है।
 
 
5. फाइबर की अधिक मात्रा वाले मौसमी जूस खाएं इसे वजन कम होता है। इनमें आप संतराए मौसमी, नीबू और आंवला, सेब, बेरी जैसे फल.सब्जियां ले सकते हैं। ड्राई फ्रूट्स के सेवन से भी वजन ठीक रहता है। बादामए अखरोट और सूखे मेवों में होता है ओमेगा थ्री फैटी एसिड। जिससे वजन रहता है काबू में।
 
 
6. आधा चम्मच सौंफ को एक कप खोलते पानी में डाल दें। 10 मिनट तक इसे ढककर रखें। ठंडा होने पर इस पानी को पिएं। ऐसा तीन माह तक लगातार करने से वजन कम होने लगता है। पपीता नियमित रूप से खाएं। यह हर सीजन में मिल जाता है। लंबे समय तक पपीता के सेवन से कमर की अतिरिक्त चर्बी कम होती है। छोटी पीपल का बारीक चूर्ण पीसकर उसे कपड़े से छान लें। यह चूर्ण तीन ग्राम रोजाना सुबह के समय छाछ के साथ लेने से बाहर निकला हुआ पेट अंदर हो जाता है। आंवले व हल्दी को बराबर मात्रा में पीसकर चूर्ण बना लें। इस चूर्ण को छाछ के साथ लेंं। कमर एकदम पतली हो जाएगी।
 
 
7. मोटापा कम नहीं हो रहा हो तो खाने में कटी हुई हरी मिर्च या काली मिर्च को शामिल करके बढ़ते वजन पर काबू पाया जा सकता है। एक रिसर्च में पाया गया कि वजन कम करने का सबसे बेहतरीन तरीका मिर्च खाना है। मिर्च में पाए जाने वाले तत्व कैप्साइसिन से भूख कम होती है। इससे ऊर्जा की खपत भी बढ़ जाती हैए जिससे वजन कंट्रोल में रहता है।
 
 
8. मालती की जड़ को पीसकर शहद मिलाकर खाएं और छाछ पिएं। प्रसव के बाद होने वाले मोटापे में यह रामबाण की तरह काम करता हैै। खाने के साथ टमाटर और प्याज का सलाद काली मिर्च व नमक डालकर खाएं। इनसे शरीर को विटामिन सीए विटामिन एए विटामिन केए आयरनए पोटैशियमए लाइकोपीन और ल्यूटिन मिलेेगा। इन्हें खाने के बाद खाने से पेट जल्दी भर जाएगा और वजन नियंत्रित हो जाएगा। सौंठए दालचीनी की छाल और काली मिर्च (3 -3 ग्राम) पीसकर चूर्ण बना लें। सुबह खाली पेट और रात सोने से पहले पानी से इस चूर्ण को लेंए मोटापा कम होने लगेगा।